ट्रेन से की जा रही थी शराब की तस्करी, जप्त कि गई 5.50 लाख की शराब….

भोपाल। तस्करों ने शराब की तस्करी के लिए एक नया रास्ता निकाला है। लेकिन इससे पहले कि वो कामयाब हो पाते पुलिस के हत्थे चढ़ गए। मामला राजधानी भोपाल का है। यहां ट्रेन से शराब तस्करी का खुलासा हुआ है। क्राइम ब्रांच की टीम ने साढ़े पांच लाख रुपये की 39 पेटी शराब जब्त की है। मामले में पुलिस ने तीन तस्करों को गिरफ्तार किया है। आरोपी शराब भोपाल एक्सप्रेस ट्रेन की बोगी बुक करके लाते थे।

भोपाल क्राइम ब्रांच ने शराब तस्करों से साढ़े पांच लाख रुपए कीमत की 39 पेटी अंग्रेजी शराब जब्त की है। आरोपी भोपाल एक्सप्रेस के माध्यम से अवैध शराब लाते थे। आरोपियों ने करोंद इलाके की पंचवटी कॉलोनी के एक घर की खाली दुकान में शराब का गोडाउन बना रखा था। मामले में पुलिस ने तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया है।

क्राइम ब्रांच के मुताबिक आरोपी मुकेश मेहरा माल सप्लायर है और सुभाष सोनी रेल्वे में ट्रांसपोर्ट का काम करता है। जबकि गजेन्द्र राठौर डिलेवरी बॉय का काम करता है। आरोपी पुलिस से बचने के लिए कार्टूनों में ऐसी पैकिंग करते थे, जिससे किसी को शक न हो, फिलहाल पुलिस मामले से जुड़े से जुडे लोगों की पहचान कर रही है।क्राइम ब्रांच को करोंद चौराहा पंचवटी कॉलोनी में बोरियों में अवैध शराब रखे होने की सूचना मिली थी। सूचना पर क्राइम ब्रांच की टीम मुखबिर द्वारा बताए जगह पर पहुंची। जहां बताए हुलिए के अनुसार तीन व्यक्ति अलग-अलग बोरियों पर बैठे थे। टीम ने तीनों की घेराबंदी कर उनसे पूछताछ की। बोरियों को खोलकर चेक किया गया, जिसमें दो बोरियों में तीन-तीन और तीसरी बोरी में चार पैकट कुल 10 पेटियां मिली। जो सफेद रंग की बोरी और पॉलीथीन से पैक थे। तीनों व्यक्तियों ने पैकेटों में मेडिसिन होना बताया, लेकिन फिर अलग-अलग सामान होना बताया। संदेह होने पर टीम ने तीनों बोरियों व सभी पैकेटों को खुलवाकर चेक करने पर उनमें अंग्रेजी शराब भरी हुई मिली।

पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि सुभाष सोनी और मुकेश मेहरा दोनों को निकिता लॉजिस्टिक कम्पनी का मालिक जितेंदर उर्फ जीतू गबरानी निवासी रोहिणी नरेला अवंतिका नार्थ वेस्ट दिल्ली से ट्रेन भोपाल एक्सप्रेस के माध्यम से अपना माल भिजवाता था। उस माल के साथ जितेंदर गबरानी शराब के कार्टून भी भिजवाता था।

Spread the love
error: Content is protected !!